इलाहाबाद में हुई बसपा नेता की हत्या, कार्यकर्ताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

राजेश यादव

इलाहाबाद। बहुजन समाज पार्टी के नेता राजेश यादव की सोमवार देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस घटना से आक्रोशित उनके समर्थकों ने मंगलवार को शहर के इंडियन प्रेस चौराहे पर विरोध प्रदर्शन किया गया.

पुलिस के मुताबिक, राजेश यादव सोमवार को अपने मित्र डॉ. मुकुल सिंह के साथ फॉर्च्यूनर एसयूवी से इलाहाबाद विश्वविद्यालय के ताराचंद हॉस्टल में किसी से मुलाकात करने गए थे.

रात तकरीबन ढाई बजे हॉस्टल के बाहर किसी से उनका विवाद हो गया. कहासुनी ज़्यादा बढ़ने पर दूसरे पक्ष ने यादव पर गोली चला दी जो उनकी पेट में लगी.

यादव की देर रात अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. सुबह उनकी मौत की ख़बर फैलते ही उनके समर्थक अस्पताल के निकट स्थित इंडियन प्रेस चौराहे पर एकत्र हो गए और रोडवेज़ की एक बस को आग लगा दिया. बस पूरी तरह से जल गई.

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल ने बताया कि शव को पोस्टमॉर्टम के लिए स्वरूपरानी नेहरू (एसआरएन) चिकित्सालय भेजा गया है.

इस संबंध में यादव की पत्नी की ओर से दी गई शिकायत के आधार पर पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है. इसमें यादव के साथी मुकुल सिंह के सहित अज्ञात लोगों के ख़िलाफ़ मुक़दमा दर्ज किया गया है.

उल्लेखनीय है कि ज्ञानपुर सीट से राजेश यादव पिछले विधानसभा चुनाव में बसपा के प्रत्याशी थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here