गुजरातः विरोध के लिए उना पहुंचने लगे दलित

अहमदाबाद।  गुजरात के उना में दलितों के साथ अमानवीय व्यवहार के विरोध में विगत 5 अगस्त से जारी दलित अस्मिता यात्रा 15 अगस्त को उना पहुंचेगी. इस क्रम में गुजरात के विभिन्न हिस्सों से लोग उना पहुंचने की तैयारी में लग गए हैं. प्रदेश के कई हिस्सों में उत्साही युवा बाइक के जरिए उना पहुंचने की तैयारी में है. गुजरात के भावनगर के युवा 500 मोटरबाईक की रैली लेकर उना पहुंचेंगे. इस रैली में तमाम दलित संगठनों के लोग औऱ दलित अधिकार के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं के साथ ही आमलोग भी शामिल है.

यह मोटर रैली 13 अगस्त को भावनगर से निकलेगी और 15 अगस्त को उना पहुंचेगी. गुजरात में दलितों पर हो रहे अत्याचार के खिलाफ शुरू हुआ विरोध प्रदर्शन 15 अगस्त को उना में समाप्त होगा. उना में ध्वजारोहण तक इस रैली का हिस्सा रहेंगे. इस दौरान यह यात्रा प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से गुजर रही है. यात्रा जहां से भी गुजर रही है, वहां इस यात्रा के अगुवा जिग्नेश मेवाणी दलित समाज के लोगों को मैला नहीं उठाने, सीवर की सफाई नहीं करने और मरे हुए जानवरों की खाल नहीं उतारने की प्रतिज्ञा दिलवा रहे हैं. गौरतलब है 11 जुलाई के दिन तथाकथित गौरक्षकों ने उना के चार दलितों की बेहरमी से पिटाई कर दी थी, जिसके बाद से दलितों में रोष है और सरकार के खिलाफा विरोध प्रदर्शन कर रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here