सरकारी हॉस्टल में दलित छात्रा से गैंगरेप

Details Published on 09/01/2017 17:31:13 Written by प्रकाश


57b5bc3ef0ee7_chi.jpg

पटना से सटे हाजीपुर सदर थाना अंतर्गत दिघी, महुआ रोड स्थित राजकीय अम्बेडकर छात्रावास की एक 10वीं कक्षा की छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या की बात सामने आई है. छात्रा का शव हॉस्टल के कैंपस में ही मिला है. छात्रा के शव पर गहरे जख्म के निशान मिले हैं. शक और आरोप छात्रावास की प्रिंसिपल और शिक्षक पर लगा है. लड़की की मां का आरोप है कि छात्रावास की प्रिंसिपल लड़कियों से देह व्यापार करने के लिए कहती है. घटना 8 जनवरी की है.  


मृत छात्रा की दो चचेरी बहनें इसी हॉस्टल में रहती हैं. घटना के पहले की रात वे तीनों साथ में ही थीं. मृतक छात्रा की मां का कहना है कि रात में टीचर ने बेटी को पानी देने के लिए बुलाया था. इसके बाद ही यह घटना हुई. हॉस्टल में पांच महिला और पांच पुरुष टीचर हैं, जबकि 350 छात्रों की सुरक्षा के लिए रात में मात्र दो लोग ही रहते हैं. सुबह घटना की जानकारी लोगों तक पहुंचने के बाद लोगों में काफी रोष फैल गया. वैशाली के पुलिस कप्तान राकेश कुमार ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है. सिविल सर्जन डॉ. इंद्रदेव रंजन ने बताया कि छात्रा के अंदरूनी हिस्से में गहरी चोट लगी है. अधिक ब्लीडिंग होने से मौत हुई है.


हॉस्टल की चहारदीवारी में है सुरंग: राजकीय अम्बेडकर छात्रावास का उद्घाटन अगस्त 2015 में किया गया था. करीब एक एकड़ में बना यह काफी बड़ा छात्रावास है. यहां पश्चिम चंपारण, मुजफ्फरपुर, छपरा, सीतामढ़ी आदि कई जिलों की लड़कियां रहती हैं. करीब 375 छात्राएं यहां हैं. लेकिन सुरक्षा में लापरवाही बरती जाती है. हॉस्टल की चहारदीवारी में दो जगहों पर जमीन में बड़ा गड्ढा किया गया है. गड्ढा ऐसा है कि इससे पार होकर कैंपस में प्रवेश किया जा सकता है.

हॉस्टल में गार्ड की व्यवस्था: हॉस्टल में चार गार्ड हैं. एक महिला गार्ड है जो डीएम के यहां प्रतिनियुक्ति पर है. यहां अभी तीन गार्ड ड्यूटी पर हैं जिनमें दो महिला गार्ड है. रात में घटना हुई लेकिन गार्ड को पता नहीं चला.

मां ने लगाया आरोप: इधर, मृतक छात्रा की मां कसमी ने आरोप लगाया कि पहले भी हॉस्टल की लड़की गायब हुई है. सीतामढ़ी की लड़की गायब हुई थी. तब कहा गया था कि लड़की प्रेम-प्रसंग में भाग गयी है. डिका की माँ कसमी देवी  ने बताया की हॉस्टल की प्राचार्य इंदु देवी यहाँ रहने वाली छात्राओं से देह व्यापर करने के लिए कहा करती थी.



  • Comments(0)  


Journey of Dalit Dastak

Opinion

View More Article