अब राम मनोहर लोहिया अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 49 बच्चों की मौत

लखनऊ। उत्तरप्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में भी गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज जैसा हादसा हुआ है. यहां ऑक्सीजन और दवा की कमी से 49 बच्चों की मौत हो गई है.

फर्रुखाबाद के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में 30 दिनों में में करीब 49 बच्चों की मौत पर जिला प्रशासन ने जांच के बाद रिपोर्ट दर्ज करा दी है. जांच में बच्चों की मौत लापरवाही और इलाज में अभाव होना बताया गया है. यह मौतें 21 जुलाई से 20 अगस्त तक के बीच में हुई है. फर्रुखाबाद के लोहिया अस्पताल में यह मौतें हुई है. मौत की वजह भी ऑक्सीजन की कमी ही सामने आ रही है.

यहां डीएम के आदेश पर हुई एक जांच रिपोर्ट में यह बात सामने आई है. मृतक बच्चों के परिवार वालों को भी अंदेशा था कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से ही हुई है.

रविवार(3 सितंबर) को डीएम के आदेश के बाद जांच रिपोर्ट में यह बात सामने आई है, इस मामले में देर रात अस्पताल के चीफ मैडिकल ऑफिसर (सीएमओ) और चीफ मैडिकल सुप्रीटेंडेंनट (सीएमएस) के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.बीते महीने 10 अगस्त को उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में भी ऐसा ही मामला सामने आया था जहा ऑक्सीजन की कमी से मात्र दो दिन के अंदर 36 बच्चों की मौत हो गई थी.

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि लोहिया अस्पताल में बच्चों की मौत के मामले में जांच कराई गई थी. जांच रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई की गई है. जांच रिपोर्ट में प्रकाश में बिंदुओं आए अन्य पर भी कार्रवाई की जाएगी. जांच रिपोर्ट में सामने में आए अन्य बिंदुओं पर भी कार्रवाई की जाएगी. चिकित्सकों के खिलाफ आइपीसी की धारा 176, 188 व 304 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. उपनिरीक्षक बनी सिंह को मामले की विवेचना सौंपी गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here