अपडेटः मुजफ्फर नगर रेल हादसे में 40 से अधिक की मौत सैकड़ों घायल

रेल डिब्बों में फंसे यात्रियों को बाहर निकालते प्रशासन और स्थानीय लोग

मुजफ्फर नगर। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में देर शाम हुए भयंकर रेल हादसे ने 23 लोगों की जान ले ली है। इस दुर्घटना में 50 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं. दुर्घटना उत्कल एक्सप्रेस की 13 बोगियों के रेल पटरी से उतर जाने के कारण हुआ. उत्कल एक्सप्रेस पुरी-हरिद्वार रुट पर चलती है. घटना मुजफ्फरनगर जिले के खतौनी में घटी. हालांकि इस हादसे के बारे में रेलवे और यूपी पुलिस के आंकड़े अलग-अलग हैं. यूपी पुलिस मरने वालों की संख्या 40 के आस पास बता रही है. दुर्घटना इतनी भयावह थी कि ट्रेन में फंसे लोगों को बोगी काटकर निकालना पड़ा.

घटना को लेकर आम लोगों में काफी गुस्सा है. लोग इसे रेलवे की लापरवाही बता रहे हैं. यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मरने वालों के लिए 2 लाख और घायलों के लिए 50 हजार रुपये देनेहकी घोषणा की है. तो वहीं रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने मरने वालों को 3.5 लाख रुपये और घायलों को 50 हजार रुपये देने का ऐलान किया है. गौरतलब है कि नई सरकार में रेलवे अधर में लटक गया है और रेलवे की हालत लगातार बिगड़ती जा रही है. इस दुर्घटना पर उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने गहरा दुख जताया. एक प्रेस रिलिज जारी कर उन्होंने केंद्र व राज्य सरकार से पीड़ितों को तत्काल राहत देने, उनका बचाव करने और घायलों के बेहतर और मुफ्त इलाज सुनिश्चित करने की मांग की.

1 COMMENT

  1. अच्छा हुआ कि बुलेट ट्रेन नहीं थी नहीं तो क्या होता यदि 2014 के वादे के अनुसार बुलेट ट्रेन ला गए होते तो। दुखद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here