अम्बेडकरवादियों का मुंबई बंद, डब्बा सर्विस ठप, नहीं चलेंगी 40 हजार स्कूल बसें

भीमा-कोरेगांव। भीमा-कोरेगांव के लड़ाई की सालगिरह पर भड़की चिंगारी पूरे महाराष्ट्र में फैल गई है. घटना के विरोध में अम्बेडकरवादी संगठनों ने आज बुधवार को बंद बुलाया है. इस बंद का असर इतना ज्यादा है कि मुंबई के मशहूर डब्बावालों ने भी अपनी सर्विस को ठप रखने का ऐलान किया है. तो वहीं बंद के कारण मुंबई में करीब 40,000 स्कूल बसें नहीं चलेंगी. पुलिस ने भी एहतियात बरतते हुए कुछ जगहों पर इंटरनेट सर्विस बंद करवा दी है.

बंद का असर सुबह से ही दिखने लगा. पालघर में बस सेवा पूरी तरह से ठप है तो पालघर रेलवे स्टेशन की कैंटीन भी बंद है. इसी तरह ठाणे के पास प्रदर्शनकारियों ने ट्रेन रोक दी. ठाणे के इलाके में चार जनवरी की रात तक धारा 144 लागू कर दी गई है. बंद के बीच मुंबई पुलिस ने हिंसा मामले में 9 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर 100 को हिरासत में ले लिया.

महाराष्ट्र के प्रमुख अम्बेडकरवादी नेता और बाबासाहेब के पोते प्रकाश अम्बेडकर सहित तमाम अम्बेडकरवादी संगठनों ने कोरेगांव में 1 जनवरी को अम्बेडकरवादियों पर हुए हमले के खिलाफ आज मुंबई बंद का आवाह्न किया है. घटना के खिलाफ 2 जनवरी को ही मुंबई सहित महाराष्ट्र के कई इलाकों में लोग सड़क पर उतर आए थे. गुस्साई भीड़ ने कई सरकारी बसों को भी नुकसान पहुंचाया था. एक जनवरी को दक्षिणपंथी संगठनों की हिंसा में एक व्यक्ति की मौत से अम्बेडकरवादी ज्यादा नाराज हैं. फिलहाल मुंबई औऱ महाराष्ट्र के कई हिस्सों में अम्बेडकरवादी संगठनों के सड़क पर उतर जाने से फडनवीस सरकार के हाथ-पांव फूले हुए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here