मप्र में दलित की जमीन को जबरन कब्जाने की कोशिश!

जबरन गिराई गई बाउंड्री

पन्ना (मप्र)। मध्य प्रदेश में भले ही सरकार बदल गई हो, दलितों के हालात नहीं बदले. प्रदेश के पन्ना जिले में इंद्रपुरी निवासी एक दलित परिवार की जमीन को जबरन कब्जाने और उस पर निर्माण कराने की घटना सामने आई है. उस पर तुर्रा यह कि पीड़ितों द्वारा पुलिस सुपरिटेंडेंट ऑफिस में कंप्लेंट करने के बावजूद अभी तक न तो कोई FIR दर्ज हुई है और न ही जिनके खिलाफ शिकायत है, उनकी गिरफ्तारी ही हुई है.

पुलिस को दी गई शिकायत

घटना 23 जनवरी की है. पीड़िता देवकी प्रजापति के अनुसार शहर के इंद्रपुरी कॉलोनी निवासी राजा भईया तिवारी ने दस-पंद्रह लोगों के साथ पहुंच कर उसके घर के सामने निर्माण का सामान गिरवाया दिया और निर्माण करवाने लगा. इस दौरान विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गई और पूरे परिवार को मारने की धमकी दी गई. पीड़िता का आरोप है कि गुंडों ने उनके घर की बाउंड्री को गिरा दिया. बलपूर्वक दरवाजे पर बालू और ईट गिराने के बाद दरवाजे के सामने ही बाउंड्री भी करवा दी गई. डरे हुए पीड़ित परिवार ने तब 100 नंबर पर फोन किया.

राजा भईया तिवारी

इस मामले में पीड़िता ने ‘दलित दस्तक’ को घटना से संबंधित वीडियो और फोटो मुहैया करवाया है, जो घटना की सच्चाई को बता रहा है. इस बारे में महिला का आरोप है कि पुलिस ने अभी तक न तो एफआईआर ही दर्ज किया है और न ही किसी पर कोई कार्रवाई किया है, जबकि उसके पास पूरा साक्ष्य मौजूद है. एससी थाने में भी मामले की सूचना दी गई है लेकिन वह भी खामोश है.

घटना के बाद पुलिस की मदद नहीं मिलने से पीड़ित परिवार दहशत में है. प्रदेश के वंचित तबको को उम्मीद थी कि सरकार बदलने के बाद उनके दिन भी बदलेंगे और कांग्रेस की नई सरकार उनके साथ अन्याय नहीं होने देगी, लेकिन ऐसा होता दिख नहीं रहा है. सबसे चिंताजनक बात यह है कि जब प्रशासन और पुलिस ही पीड़ितों की फरियाद न सुने तो आखिर न्याय के लिए कोई पीड़ित व्यक्ति जाए कहां?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.