भीमाकोरेगांव हिंसा पर मायावती का बड़ा बयान

0
531

महाराष्ट्र। भीमा कोरेगांव में भड़की हिंसा के बीच राजनीति भी तेज हो गई है. तमाम राजनैतिक दल इसके पीछे भाजपा और आरएसएस की साजिश बता रहे हैं. महाराष्ट्र के दिग्गज नेता और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने भी इस पूरे मामले के पीछे भाजपा-आरएसएस की साजिश बताई है. पवार का कहना है कि सालों से दलित समाज के लोग भीमाकोरेगांव आते रहे हैं लेकिन आज तक हिंसा नहीं हुई थी. उन्होंने भाजपा-आरएसएस पर स्थानीय ग्रामीणों और हिन्दूवादी संगठनों को भड़काने का आरोप लगाया है.

वहीं दूसरी ओर बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने भीमा-कोरेगांव मे हुई हिंसा पर कहा है कि यह घटना रोकी जा सकती थी. सरकार को वहां सुरक्षा की उचित व्यवस्था करनी चाहिए थी. मायावती ने आरोप लगाया कि महाराष्ट्र में बीजेपी की सरकार है और उन्होंने वहां हिंसा करवाई. उन्होंने इसके पीछे बीजेपी, आरएसएस और जातिवादी ताकतों का हाथ होने की बात कही.

दरअसल एक जनवरी को भीमा कोरेगांव पहुंचे अम्बेडकरवादी लोगों पर पथराव किया गया था. इसमें कई लोग घायल हो गए थे, जबकि एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. हमलावरों ने पचास से ज्यादा गाड़ियों को तोड़ दिया था. इसके बाद पूरे महाराष्ट्र में हिंसा भड़क गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here