लोग 15 दिन टीवी और सोशल मीडिया दूर रहें तो उनमें प्यार हो जाएगा

0
307

नई दिल्ली। फिल्म ‘मुल्क’ आगामी 3 अगस्त को रिलिज होने वाली है. फिल्म अपने देश को प्यार न करने की तोहमत और सोशल मीडिया पर अफ़वाहों से बेज़ार आम मुसलमान के अंतर्मन को टटोलती है. इस फिल्म के प्रोमोशन को लेकर निर्देशक अनुभव सिन्हा लगातार व्यस्त हैं. एक कार्यक्रम के दौरान अनुभव सिन्हा ने कहा कि अगर हिन्दू और मुस्लिम 15 दिनों तक टीवी न देखें तो उनमें प्यार हो जाएगा.

फिल्म ‘मुल्क’ के निर्देशक अनुभव सिन्हा का मानना है कि हिंदू और मुसलमान दोनों अपने धर्म और देश से प्यार करते हैं, लेकिन उन्हें इसे (देशभक्ति) साबित करने के लिए मजबूर न किया जाए. उन्होंने कहा कि कवि और गीतकार गोपाल दास नीरज ने एक नज़्म लिखी थी, ‘अब कोई मज़हब ऐसा भी चलाया जाए, जिसमें इनसान को इनसान बनाया जाए.’

अनुभव सिन्हा का मानना है कि मज़हब कोई बुरा नहीं है, अगर एक दूसरे पर भरोसा किया जाए और एक दूसरे की नीयत पर शक न किया जाए तो 70 साल की नफरत को 70 घंटे में प्यार और खुलूस में बदला जा सकता है. सिन्हा का कहना है कि ‘इस मुल्क में न हिंदू दंगा चाहता है और न ही मुसलमान, बस चंद लोग हैं जो इन दोनों को लड़ते देखना चाहते हैं क्योंकि इसमें उनका फायदा है.’ इसके लिए मीडिया और सोशल मीडिया को ज़िम्मेदार ठहराते हुए वह सलाह देते हैं कि अगर जनता न्यूज़ चैनल और सोशल मीडिया से नाता तोड़ ले तो प्यार की बरसात बरसने में ज़्यादा वक़्त नहीं लगेगा.

Read it also-फिल्म ‘संजू’ में हिरानी ने क्यों नहीं दिखाई ये सच्चाई?

  • दलित-बहुजन मीडिया को मजबूत करने के लिए और हमें आर्थिक सहयोग करने के लिये दिए गए लिंक पर क्लिक करेंhttps://yt.orcsnet.com/#dalit-dast

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.