दिल्ली विश्वविद्यालय का इस कॉलेज का नाम हुआ ‘वंदे मातरम महाविद्यालय’

dyal singh

नई दिल्ली। दिल्ली के दयाल सिंह ईवनिंग कॉलेज का नाम ‘वंदे मातरम महाविद्यालय’ करने का फैसला किया गया है. कॉलेज की गवर्निंग बॉडी ने शुक्रवार को एक प्रस्ताव पारित कर यह फैसला किया. हालांकि, मॉर्निंग और ईवनिंग कॉलेज के स्टूडेंट्स के प्रदर्शन को देखते हुए बैठक रोक दी गई.

गवर्निंग बॉडी के चेयरमैन अमिताभ सिन्हा ने कहा कि नोटिफिकेशन में बताया गया कि एग्जिक्युटिव काउंसिल ने दयाल सिंह ईवनिंग कॉलेज को पूर्ण कॉलेज का दर्जा दे दिया है. तब हमने इसे नया और प्रेरणादायी नाम देने का फैसला किया. हमने फैसला किया कि इसका नाम वंदे मातरम महाविद्यालय होना चाहिए.

उन्होंने कहा कि इसे सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया. लेकिन कुछ लोगों ने विरोध करना शुरू कर दिया जो कि स्वीकार्य नहीं है? क्यों? हर कोई यूनिवर्स में अपनी मां के कारण है, कोई कहता है कि मां को सम्मान देना सही नहीं है तो वह जानवर हो सकता है इंसान नहीं.’

हाल ही में आधिकारिक परिषद की मीटिंग में ईवनिंग कॉलेज को पूर्ण कॉलेज बनाने की अनुमति दी गई, जिस फैसले का छात्र और शिक्षक विरोध कर रहे हैं. इधर, मॉर्निंग कॉलेज के स्टूडेंट्स ने बुनियादी ढांचे की कमी को लेकर प्रदर्शन किया. मॉर्निंग कॉलेज के प्रफेसर प्रेमेंद्र कुमार परिहार ने कहा कि कॉलेज में बुनियादी ढांचे की कमी है. उन्होंने कहा कि बंटवारा होने के बाद दोनों कॉलेजों में संसाधन बटेंगे. पार्किंग और दूसरे संसाधनों को लेकर टीचर और स्टूडेंट्स के बीच पहले से ही रार ठनी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here