अम्बेडकरवादी युवा से डरे मप्र के सीएम, दौरे से पहले पुलिस ने किया गिरफ्तार

पन्ना। मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के दौरे से पहले एक अम्बेडकरवादी दलित एक्टिविस्ट के साथ पुलिसिया ज्यादती की खबर है. अनुसूचित जाति-जनजाति पिछड़ा वर्ग युवा संगठन के कार्यवाहक प्रदेश अध्यक्ष जितेंद्र सिंह जाटव के मुताबिक 4 अप्रैल को बिना किसी कारण के भारी मात्रा में पुलिस बल उनके घर में पहुंच गई और उन्हें गिरफ्तार कर लिया.

गिरफ्तार कर पुलिस उन्हें पन्ना में अनुसूचित जाति थाने में ले गई और सुबह से शाम तक बिठाने के बाद शाम को 159 के तहत मामला दर्ज कर छोड़ दिया. पुलिस ने इस गिरफ्तारी की वजह बताते हुए कहा कि मध्यप्रदेश के CM शिवराज सिंह चौहान के 4 अप्रैल को पन्ना दौरे के कारण जितेन्द्र जाटव को गिरफ्तार किया गया. बकौल जितेन्द्र पुलिस वालों ने उनसे कहा कि उन्हें शक है कि वो दलित-पिछड़े समाज से जुड़ी मांग उठा सकते हैं.

हालांकि इससे पहले जितेन्द्र की गिरफ्तारी के विरोध में भारी संख्या में अम्बेडरवादी युवा अनुसूचित जाति थाने में पहुंच गए और इस घटना की निंदा की. विरोध दर्ज करते हुए 5 अप्रैल को दलित, पिछड़े और अल्पसंख्यक समाज के लोगों ने जिला कलेक्टर में पहुंचकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और पन्ना पुलिस अधीक्षक रियाज इकबाल को पद से हटाने की मांग की. विरोध प्रदर्शन में शामिल लोगों का कहना था कि बिना किसी कारणवश उनके साथी को गिरफ्तार कर उन पर असंवैधानिक तरीके से मामला दर्ज करना कहीं ना कहीं उनके मौलिक अधिकारों का हनन है. प्रदर्शनकारियों ने जितेन्द्र जाटव पर दर्ज मामला वापस लेने की मांग की. गौरतलब है कि जितेन्द्र दलित एक्टिविस्ट हैं और दलितों-पिछड़ों और अल्पसंख्यकों के सवाल पर लगातार संघर्ष करते रहते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here