पीएम मोदी के गृहनगर में शोषण से परेशान दलित ने की आत्महत्या

0
98

वडनगर। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के गृहनगर गुजरात के वडनगर क्षेत्र में शोषण से परेशान होकर एक दलित व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली. बीबीसी के मुताबिक घटना वडनगर स्थित शेखपुर गांव की है. आत्महत्या करने वाला व्यक्ति मिड डे मील के प्रबंधक के रूप में काम करता था. मृतक का नाम महेश भाई चावड़ा है. पुलिस ने छह फ़रवरी की शाम को शेखपुर गांव के एक कुएं से महेशभाई का शव निकाला.

इस मामले में सुसाइड नोट में स्कूल के तीन शिक्षकों द्वारा शोषण की बात सामने आई है. सुसाइड नोट के मुताबिक बीते एक-डेढ़ साल से स्कूल के तीन टीचर अमाजी अनारजी ठाकोर, मोमिन हुसैन अब्बास भाई और प्रजापति विनोदभाई महेश को लगातार परेशान कर रहे थे. पुलिस के उनके ख़िलाफ़ आत्महत्या के लिए उकसाने और दलित उत्पीड़न का मामला दर्ज़ गया है. पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट मृतक के बेटी के स्कूल बैग से मिला है.

महेश के छोटे भाई पीयूष व्यास ने कहा कि उन्होंने प्रशासन के सामने तीन मांगें रखी हैं. इन मांगों में 35 साल की इला को सरकारी नौकरी देने और परिवार को तुरंत आर्थिक मदद देना शामिल है. महेश की आत्महत्या के बाद पूरा परिवार सदमे में है. इसी स्कूल में मृतक की पत्नी इला बेन मिड डे मील बनाने का काम करती हैं. महेश भाई की तनख्वाह 1600 रुपये प्रतिमाह थी, जबकि उनकी पत्नी को 1400 रुपये प्रतिमाह वेतन मिलता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here