सचिन और रेखा की सदस्यता खत्म, आखिरी दिन भी गायब रहें दोनों

नई दिल्ली। राज्यसभा के 85 सांसदों का कार्यकाल आज खत्म हो गया. इसमें कई जाने-माने नाम शामिल हैं. इन नामों में क्रिकेट जगत के दिग्गज सचिन तेंदुलकर और फिल्म जगत से रेखा भी शामिल हैं. इस मौके पर सांसदों के लिए विदाई समारोह रखा गया. लेकिन इस दौरान भी दोनों सदन में अपनी जगह पर मौजूद नहीं थे.

अपने 6 साल के कार्यकाल के दौरान दोनों ने संसद के हुए सभी सत्रों में महज एक या दो दिन सदन में मौजूद रहे. यह मौजूदगी इसलिए भी रहे जिससे उनकी राज्यसभा सदस्यता लगातार बनी रहे. लेकिन जहां तक संसद में किसी सांसद की जिम्मेदारी का सवाल उठता है तो दोनों इस मामले में फिसड्डी रहे.

राज्यसभा में बतौर सदस्य रेखा के 6 साल

राज्यसभा वेबसाइट पर मौजूद आंकड़ों के मुताबिक अपने 6 साल के कार्यकाल के दौरान रेखा ने एक भी सवाल नहीं पूछा. हालांकि ऐसा नहीं है कि संसद की तरफ से रेखा को सदन के कामकाज में शामिल करने की कोई पहल नहीं की गई. रेखा को सितंबर 2016 से फूड, कंज्यूमर अफेयर्स और पब्लिक डिस्ट्रीब्यूशन की समिति में बतौर सदस्य शामिल किया गया. लेकिन इसके बावजूद उन्होंने कोई रुचि नहीं दिखाई.

संसद में उनकी मौजूदगी की बात करें तो अपने कार्यकाल में अगस्त 2017 तक हुए संसद के कुल 373 सिटिंग्स में वह सिर्फ 18 सिटिंग्स में शामिल रहीं. यानी पूरे कार्यकाल के दौरान उनकी कुल अटेंडेंस महज 5 फीसदी रही. रेखा ने सिर्फ एक बार सदन के सत्र में शामिल न होने के लिए एप्लीकेशन दी और न शामिल हो पाने की वजह फिल्म में काम करने की मजबूरी बताई. हालांकि कुछ सत्रों से वह बिना एप्लीकेशन दिए गायब रहीं.

संसद में सचिन 

जहां तक सचिन का सवाल है, सचिन के रिकॉर्ड में 22 सवाल दर्ज हैं, जिनका ब्यौरा राज्यसभा की वेबसाइट पर शामिल किया गया है. उनके सवाल रेलवे नेटवर्क के इलेक्ट्रिफिकेशन, न्यू एजुकेशन पॉलिसी में स्पोर्ट्स को बतौर विषय शामिल करना और रेलवे सुरक्षा जैसे विषयों पर केन्द्रित रहे चीन के कार्यकाल में अगस्त 2017 तक संसद के कुल 373 सिटिंग्स में वह 25 सिटिंग्स में शामिल रहे हैं. यानि सचिन की अटेंडेंस कुल 7 फीसदी रही.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.