इतिहास में पहली बार केंद्र सरकार ने SC के फैसले को मानने से इनकार कियाः केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली में अधिकारों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला तो सुना दिया लेकिन अरविंद केजरीवाल का कहना है कि केंद्र सरकार कोर्ट का फैसला नहीं मान रही है. दरअसल, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को एलजी अनिल बैजल से मुलाकात की. इसके बाद उन्होंने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि मैं अभी एलजी साहब से मिलकर आ रहा हूं. अब हर फाइल के लिए एलजी साहब की मंजूरी नहीं होगी, जितने निर्णय हैं दिल्ली सरकार से लिया जाएगा सिर्फ उससे LG साहब को अवगत कराया जाएगा. इस पर एलजी साहब तैयार हो गए हैं. अब दिल्ली के लटके काम जल्द ही किए जाएंगे.

लेकिन दिल्ली व केंद्र सरकार के बीच की लड़ाई की अभी खत्म नहीं हुई है. क्योंकि एलजी साहब सर्विसेज मामले में तैयार नहीं हुए हैं. सीएम केजरीवाल का कहना है कि, मैंने एलजी साहब को बताया कि सर्विसेज का पावर सरकार के पास होगा, इससे एलजी साहब ने मना कर दिया. इस पर केजरीवाल ने कहा कि मुझे लगता है कि भारत के इतिहास में पहली बार होगा, जब केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने से इनकार किया हो. इस तरह से अगर केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानने से इनकार कर दे तो ऐसे अराजकता फैल जाएगी.

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ-साफ अपने फैसले में कहा है कि तीन सब्जेक्ट को छोड़कर पुलिस, लैंड और लॉ एंड ऑर्डर को छोड़कर सभी पावर जैसे- ट्रांसफर-पोस्टिंग, प्रमोशन, नई पोस्ट बनाना, कच्चे कर्मचारियों को पक्का करना दिल्ली सरकार के पास होगी. फिलहाल इनके लिए लड़ाई अभी भी जारी है.

इसे भी पढ़ें-‘आप’ की जीत, SC ने दिल्ली को दी ‘आजादी’

  • दलित-बहुजन मीडिया को मजबूत करने के लिए और हमें आर्थिक सहयोग करने के लिये दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://yt.orcsnet.com/#dalit-dastak 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.