1 अक्टूबर से सस्ती हो सकती हैं कॉल दरें

0
321

► जियो को फायदा, बाकी ऑपरेटरों को झटका, ग्राहकों को मिल सकती हैं सस्ती कॉल
► आईयूसी को 14 पैसे से घटाकर 6 पैसे प्रति मिनट किया
► नई दर 1 अक्टूबर से लागू होगी
► 1 जनवरी, 2020 से नहीं लगेगा कॉल टर्मिनेशन शुल्क
► जियो को होगा फायदा, पुरानी दूरसंचार कंपनियों की आय पर चोट

दूरसंचार नियामक ट्राई ने इंटर कनेक्शन उपयोग शुल्क (आई.यू.सी.) को 14 पैसे से घटाकर 6 पैसे प्रति मिनट कर दिया. नियामक के इस कदम से काल दरें घटने की राह खुल सकती है. आई.यू.सी. वह शुल्क होता है जो कोई दूरसंचार कम्पनी अपने नेटवर्क से दूसरी कम्पनी के नेटवर्क पर कॉल के लिए दूसरी कम्पनी को देती है.

ट्राई ने कहा कि 6 पैसे प्रति मिनट का नया कॉल टर्मिनेशन शुल्क 1 अक्तूबर, 2017 से प्रभावी होगा और 1 जनवरी, 2020 से इसे पूरी तरह से समाप्त कर दिया जाएगा.

उल्लेखनीय है कि आई.यू.सी. को लेकर हाल ही में खासा विवाद रहा है और इसमें कटौती का ट्राई का आज का फैसला भारती एयरटैल जैसी प्रमुख दूरसंचार कम्पनियों के रुख के विपरीत है जोकि इसमें बढ़ौतरी की मांग कर रही थीं. एक अन्य कदम में नियामक ने दूरसंचार क्षेत्र में व्यापार सुगमता को बढ़ावा देने के लिए एक परामर्श पत्र आज जारी किया है. इस परिपत्र में समयबद्ध मंजूरियों, शुल्कों को युक्ति संगत बनाए जाने व श्रेणीबद्ध जुर्माने का प्रस्ताव है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.