बसपा ने दिल्ली में बदला प्रदेश अध्यक्ष

नई दिल्ली। बहुजन समाज पार्टी की दिल्ली इकाई में बड़ा फेरबदल हो गया है. खबर के मुताबिक कई सालों से दिल्ली के प्रदेश अध्यक्ष पद पर जमें सी.पी सिंह की छुट्टी हो गई है. उनकी जगह पार्टी के मिशनरी कार्यकर्ता और पूर्व विधायक सुरेन्द्र सिंह को नया प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया है. 22 जून को बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष सुश्री मायावती के दिल्ली आवास पर हुई बैठक में बसपा प्रमुख ने यह फैसला लिया.

सुरेन्द्र सिंह बहुजन समाज पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ता हैं. साल 1998 में पार्टी ज्वाइन करने के बाद वह लगातार बसपा से जुड़े रहे हैं. सुरेन्द्र सिंह ने पहला चुनाव बसपा के टिकट पर 2003 में रोहतास नगर विधानसभा से लड़ा. इसमें वह तीसरे नंबर पर रहें. 2008 में बसपा ने उन्हें गोकुलपुरी से टिकट दिया. सुरेन्द्र सिंह इस सीट से 3800 वोटों से जीतकर पहली बार विधायक बने. हालांकि 2013 में सुरेन्द्र सिंह सीटिंग विधायक रहते हुए भी पार्टी की अंदरुनी गुटबाजी का शिकार हो गए और पार्टी का टिकट हासिल नहीं कर पाएं.

तब सुरेन्द्र सिंह ने गोकुलपुरी से निर्दलीय चुनाव लड़ा. हालांकि वह जीत न सकें और महज 1900 वोटों से दूसरे नंबर पर रहें. वोटों के इस मामूली अंतर से पराजित हो जाने के बाद सुरेन्द्र सीधे बसपा प्रमुख मायावती की नजर में आ गए जिन्होंने सुरेन्द्र को वापस पार्टी में बुला लिया.

सुरेन्द्र सिंह टिकट कटने से मायूस तो थे लेकिन बहुजन आंदोलन के सच्चे सिपाही की तरह वह एक बार फिर से बसपा के लिए काम करने में जुट गए. इस बीच अस्तित्व में आई आम आदमी पार्टी ने उनपर लगातार डोरे डाले और उन्हें आप में शामिल करने की कोशिश में जुटे रहे लेकिन सुरेन्द्र सिंह ने मिशन का दामन थामे रखा. आप की लहर के बावजूद सुरेन्द्र सिंह 30500 वोट हासिल करने में कामयाब रहे. उनकी निष्ठा को देखते हुए बसपा प्रमुख ने आखिरकार अब उन्हें प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी दे दी है.

इसे भी पढ़ें-ग्वालियर में बसपा के कद्दावर नेताओं ने बिगुल फूंका

  • दलित-बहुजन मीडिया को मजबूत करने के लिए और हमें आर्थिक सहयोग करने के लिये दिए गए लिंक पर क्लिक करें https://yt.orcsnet.com/#dalit-dastak 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.