गुजरात में भाजपा को झटका

पाला बदल भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के दस पार्षदों ने छोड़ा साथ

गुजरात: गुजरात में मेहसाणा नगरपालिका सीट पर हार ने सत्‍तारूढ़ भाजपा का धमंड चूर-चूर कर दिया है. पिछले साल भाजपा, कांग्रेस के दस पार्षदों को पर्टी में शामिल कर मेहसाणा नगरपालिका पर कब्‍जा जमाने में सफल रही थी. इसके बाद भाजपा ने कांग्रेस के रायबेन पटेल को अध्‍यक्ष भी बनाया था लेकिन अब पश्चिम बंगाल और मेहसाणा में  हुई बीजेपी की किरकिरी के बाद इन पार्षदों ने भी पार्टी का दामन छोड़ दिया है.

इससे पहले पश्चिम बंगाल के नोआपाड़ा उपचुनाव में जीत हासिल करने के लिए भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस की पूर्व विधायक मंजू बसु के सामने अपना उम्‍मीदवार बनने का प्रस्ताव रखा था. लेकिन उन्होने यह कहते हुए प्रस्‍ताव ठुकरा दिया कि वह अभी भी ममता बनर्जी की सिपाही हैं. हलांकि इस पर भाजपा का कहना है कि मंजू ने खुद सदस्‍यता के लिए पार्टी के टॉल फ्री नंबर पर मिस कॉल दिया था. बरहाल मंजू बसु ने निजी फैसला बताते हुए भाजपा का प्रस्‍ताव ठुकरा दिया.

मेहसाणा में मिली इस हार से भाजपा को करारा झटका लगा है क्योकि मेहसाणा नगरपालिका का गुजरात की राजनीति में खासा महत्व है. इसे भाजपा विधायक और राज्‍य के उपमुख्‍यमंत्री नितिन पटेल का गड़ माना जाता है. इस हार के बाद भाजपा में शामिल हुए कांग्रेस के दस पार्षद तो वापस कांग्रेस में चले गए हैं लेकिन मामला टालने के लिए गुजरात के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल ने कहा है कि कांग्रेस के पार्षद भाजपा में कभी शामिल ही नहीं हुए थे.

पीयूष शर्मा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here