इस श्रृंखला में जुड़ने के लिए यहां क्लिक करें

आदरणीय महोदय,
सादर जय भीम।
महोदय,


जैसा कि आपको पता है, ‘दलित दस्तक’ एक मासिक पत्रिका है, जो जून 2012 से यानि पिछले पांच साल से निरंतर बहुजन समाज की सूचनाओं को समाज के बीच पहुंचाने का काम कर रही है। अपने इस काम में पत्रिका सफल रही है। आज के वक्त में पत्रिका 25 राज्यों में दो लाख पाठकों के बीच पहुंच रही है। लेकिन प्रिंट माध्यम से इतर एक दुनिया वेब की भी है जो निरंतर प्रचलित हो रही है। हर हाथ में स्मार्ट फोन (मोबाइल फोन) होने से वेब के जरिए लोगों तक पहुंचना आसान हो गया है। पिछले पांच वर्ष से www.dalitmat.com और www.dalitdastak.com नाम से हम वेब माध्यम में भी सक्रिय हैं। मैगजीन में व्यस्तता के कारण यह थोड़ा पीछे छूट गया था लेकिन हम इसको नए रूप में फिर से आपलोगों के बीच लेकर आए हैं।

 


इस वेबसाइट के जरिए हमारी कोशिश देश भर में बहुजन समाज से जुड़े हर तरह के मुद्दों को उठाने के अलावा बहुजन समाज के बुद्धीजीवियों, लेखकों, व्यवसायियों, कलाकारों, समाजसेवी, राजनीति दलों, राजनेताओं एवं स्वयंसेवी संस्थाओं की खबरों को प्राथमिकता से प्रकाशित करना है, ताकि इनसे जुड़ी सूचनाएं तमाम लोगों तक पहुंच सके। आज के वक्त में जब हम दलित/बहुजन/मूलनिवासी समाज के प्रबुद्ध व्यक्तियों, राजनीतिक दलों, स्यवंसेवी संस्थाओं एवं राजनेताओं से जुड़ी खबरों को ढ़ूंढ़ते हैं तो इंटरनेट पर भी इनके बारे में या तो जानकारी नहीं मिलती या फिर बहुत कम मिलती है। हमारी कोशिश है कि हम आपके और आपके संगठन के कार्यों के बारे में लोगों को अवगत कराएं ताकि आपकी मेहनत और आपका काम सबके सामने आ सके। इसे सीधी भाषा में कहे तो दलित दस्तक के माध्यम से हम आपका ऑनलाइन प्रोमोशन करने की जिम्मेदारी लेंगे। यह कार्य हम विभिन्न तरीके से कर सकते हैं।

  1. (1). हमसे अनुबंध करने वाली संस्था या व्यक्ति को हम ऑनलाइन प्रोमोट करेंगे। इसके तहत हम उनकी उपलब्धियां, उनके विशिष्ट कार्यों और उनको मिलने वाले सम्मान की खबरों को फोटो सहित अपनी वेबसाइट www.dalitdastak.com पर प्रकाशित करेंगे। संस्थान द्वारा समय-समय पर कराए जाने वाले कार्यक्रमों को भी हम विशेष महत्व के साथ प्रकाशित करेंगे।
  2. (2). हम अपनी वेबसाइट www.dalitdastak.com पर ही आपको एक स्थान (स्पेस) मुहैया कराएंगे, जहां मुख्य पेज पर संगठन/व्यक्ति का प्रोफाइल; फोटो सहित हमेशा मौजूद रहेगा। इसके अलावा लगातार आपकी उपलब्धियों से जुड़ी खबरों और फोटो को प्रकाशित किया जाएगा।
  3. (3). आपसे जुड़ी सारी सूचनाएं एक साथ मौजूद रहेंगी और जब भी कोई इंटरनेट/गूगल पर आपके बारे में Search करेगा या फिर हमारी वेबसाइट पर आएगा तो उसको आपके संघर्ष और कार्यों के बारे में सारी सूचनाएं मिल जाएंगी।
  4. (4). लेखकों/साहित्यकारों के विभिन्न लेखों, नई प्रकाशित पुस्तकों, आपको मिले सम्मान/पुरस्कार आदि की उपलब्धियों को हम बेवसाइट पर डालेंगे। हम विभिन्न समाचार पत्रों एवं पत्रिकाओं में प्रकाशित उनके लेखों की स्कैन कॉपी को भी प्रकाशित करेंगे। साथ ही नई किताबों को प्रचारित करेंगे।
  5. (5). तमाम सामाजिक संगठन सालों से देश और समाजहित में काम कर रहे हैं। लेकिन न तो उनके कामों को पहचान मिल पाई है और ना ही उनको ही उचित सम्मान मिल सका है। इसकी वजह मीडिया द्वारा उनके कामों को प्रचार नहीं मिल पाना है। हम ऐसे संगठनों द्वारा किए गए समाज कल्याण के कामों को प्रोमोट करेंगे।
  6. (6). हमसे अनुबंध (Contract) करने वाले व्यक्तियों और संगठनों के प्रमुख का एक साक्षात्कार भी प्रकाशित करेंगे, ताकि उनके व्यक्तिगत जीवन में किए संघर्ष को दुनिया के सामने लाया जा सके।

 


अनुबंध के नियम

  • हम दो श्रेणियों में अनुबंध करेंगे। पहली श्रेणी में बारह महीने के लिए 15,000/- रुपये और दूसरी श्रेणी में बारह महीने के लिए 25,000/- रुपये का भुगतान करना होगा।
  • पहली श्रेणी में हम आपकी उपलब्धियों और आपके द्वारा किए गए साकारात्मक कार्यों को लोगों के बीच रखेंगे। इसके तहत आपकी खबरों को प्रकाशित किया जाएगा साथ ही एक अनुबंध वर्ष में आपका साक्षात्कार भी प्रकाशित किया जाएगा।
    जबकि दूसरी श्रेणी में हम पहली श्रेणी के कार्यों के अलावा आपका एक विडियो इंटरव्यू या फिर आपका एक प्रोमोशनल विडियो जिसमें आपका सफरनामा होगा को तैयार कर के वेबसाइट और यू-ट्यूब पर डालेंगे। हम आपको इसकी सीडी भी मुहैया कराएंगे।
  • एक महीने में हम ज्यादा से ज्यादा सिर्फ 5 खबरों को ही प्रकाशित करेंगे।
  •  खबरों और फोटो को मुहैया कराने की जिम्मेदारी आपकी होगी। आप हमें जो भी खबरें भेजेंगे हम उसे सुधार कर वेबसाइट पर लगा देंगे। खबरों को ई-मेल करना होगा और मैटर वर्ड फाइल पर टाइप किया हुआ होना चाहिए। फोटो के रेज्यूलेशन का ध्यान रखें।
  • अनुबंध के समय आपको कुल राशि का 35 प्रतिशत यानि 5250/- रुपये देने होंगे। बाकी राशि 45 दिनों के अंदर देनी होगी, अन्यथा आपका अनुबंध रद्द कर दिया जाएगा।
  • अनुबंध की राशि आप चेक के जरिए हमारे वेबसाइट के अकाउंट DALITMAT COM के FAVOR में दें। आप कैश भी दे सकते हैं। कैश देने की स्थिति में आप ऑफिस में 011-41427518 पर या फिर संपादक महोदय से 9711666056 पर संपर्क कर सूचित करें।
  • अनुबंध होने के बाद कोई भी दिक्कत होने पर आप dalitdastak@gmail.com पर ई-मेल करें।

    अनुबंध करने वालों के लिए सुविधाएं
  • दूसरे वर्ष में अनुबंध को रिन्यूअल कराने की स्थिति में आपको 10 प्रतिशत की छूट मिलेगी।
  • अगर आपके माध्यम से किसी संगठन या व्यक्ति से हमारा अनुबंध होता है तो आपको इसका लाभ मिलेगा। आपके माध्यम से जुड़ने वाले प्रति व्यक्ति या संगठन पर हम आपको अगले साल रिन्युअल पर 15 प्रतिशत की छूट देंगे।
  • अगर आपके माध्यम से अनुबंध की अवधि के दौरान 6 लोग जुड़ते हैं तो हम आपको एक वर्ष के लिए निःशुल्क अपनी सेवा मुहैया कराएंगे।


आभार
अशोक दास (संपादक)
दलित दस्तक (मासिक पत्रिका)
वेबसाइटः
www.dalitdastak.com
संपर्क- 011-41427518
Email- dalitdastak@gmail.com


There is no News....

Journey of Dalit Dastak

Opinion

View More Article