मोदी के मंत्री पर एससी/एसटी एक्ट लगने के बाद बढ़ा बवाल

पटना। बिहार के असोपुर गांव के राम नारायण प्रसाद की जमीन को जबरन हथियाने के मामले में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह पर एससी/एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. मामला सामने आने के बाद विपक्ष ने एक सुर में गिरिराज सिंह को मंत्रीमंडल से बर्खास्त करने की मांग की है. इसको लेकर बढ़ते राजनीतिक दबाव में अब सबकी नजर प्रधानमंत्री मोदी पर है. हालांकि मामला एक हफ्ते पुराना है लेकिन हाल ही में इसके सामने आने के बाद विपक्ष ने भाजपा और पीएम मोदी पर हमला तेज कर दिया है.

दलित समाज से ताल्लुक रखने वाले राम नारायण प्रसाद का आरोप है कि मंत्री ने उसकी दो एकड़ छह डेसिमल जमीन पर कब्जा कर लिया. साथ ही विरोध करने पर उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया. मामला सामने आने के बाद अनुसूचित जाति एवं जनजाति विशेष अदालत के आदेश पर गिरिराज के अलावा 32 अन्य के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. पटना जिले के दानापुर पुलिस थाने के प्रभारी संदीप कुमार सिंह ने इस बात की पुष्टि की है कि अदालत के आदेश के मुताबिक, भारतीय दंड संहिता और एससी/एसटी अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है.

नवादा से भाजपा सांसद गिरिराज सिंह सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्य मंत्री हैं. मामला सामने आने के बाद बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने जदयू भाजपा गठबंधन पर हमला तेज कर दिया है. तेजस्वी यादव ने सवाल उठाया, ‘ज़मीन हथियाने के मामले में अब एक केंद्रीय मंत्री के ख़िलाफ़ मामला दर्ज हुआ है. अब भाजपा के नेता क्यों कुछ नहीं बोल रहे हैं? मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहां हैं? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गिरिराज सिंह को बर्ख़ास्त कर देना चाहिए. वहीं कांग्रेस पार्टी ने भी इस मुद्दे पर पीएम मोदी से मंत्री गिरिराज के इस्तीफे की मांग की है. देखना है कि पीएम मोदी अपने मंत्री के खिलाफ क्या कार्रवाई करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here